जिस भजन में राम का नाम ना हो – Jis Bhajan Mein Ram Ka Naam Na Ho Lyrics

जिस भजन में राम का नाम ना हो यह एक भक्ति गीत है जो श्री राम से बोहोत ही प्रेम करते है जैसे प्रभु श्री हनुमान वह मानते है की संसार के कन कन मे राम है।

गाने के बोल ने यह बताया है कि भगवान राम के नाम को शामिल करने वाले भजनों को ही गाना चाहिए। इस भजन में यह कहा गया है कि राम के नाम के बिना गाने का कोई मूल्य नहीं है, चाहे उसमें बच्चों के प्रति प्रेम हो, माता-पिता के संबंध हों या पति-पत्नी के बीच की बातें हों।

गीत रूचिकर धार्मिक और नैतिक मूल्यों पर आधारित है, और यह कहता है कि राम के नाम से भरपूर भजनों का हर कोई उत्तराधिकारी होना चाहिए, और उनका गाना करना चाहिए।

जिस भजन में राम का नाम ना हो भजन लिरिक्स:

जिस भजन में राम का नाम ना हो,
उस भजन को गाना ना चाहिए।।

चाहे बेटा कितना प्यारा हो,
उसे सिर पे चढ़ाना ना चाहिए,
चाहे बेटी कितनी लाडली हो,
घर घर ने घुमाना ना चाहिए,
जिस भजन में राम का नाम न हों,
उस भजन को गाना ना चाहिए।।

जिस माँ ने हम को जनम दिया,
दिल उसका दुखाना ना चाहिए,
जिस पिता ने हम को पाला है,
उसे कभी रुलाना चाहिए, जिस
भजन में राम का नाम न हों,
उस भजन को गाना ना चाहिए।।

चाहे पत्नी कितनी प्यारी हो,
उसे भेद बताना ना चाहिए,
चाहे मैया कितनी बैरी हो,
उसे राज़ छुपाना ना चाहिए,
जिस भजन में राम का नाम न हों,
उस भजन को गाना ना चाहिए।।

जिस भजन में राम का नाम ना हो,
उस भजन को गाना ना चाहिए।।

जिस भजन में राम का नाम ना हो सुनिए विडिओ:

अगर इस भजन को दिल से याद करना चाहते है तो इस विडिओ को जरूर सुने क्यू की धुन मे गए गए भजन अक्सर याद रह जाते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Join Whatsapp