हनुमान मंत्र – Hanuman Mantra & Vidhi PDF

हनुमान जी कलयुग के सर्व सर्वशक्तिमान देवता मे से एक है, चरंजीवी होने के साथ साथ वे प्रभु श्री राम के भी परम भक्त है, तभी आप कोई भी मंत्र ध्यान से देखो तो उसमे श्री राम या माता सीता का स्मरण जरूर होता है।

आज हम जानेंगे श्री हनुमान मंत्र और मंत्रों के विधि, साथ ही आप को मैं पीडीएफ़ भी दूँगी जो आप डाउनलोड कर मंत्रों का जप कर सकते है। Hanuman Mantra Hindi PDF List.

  • पावरफुल मंत्र
  • सर्व बाधा मुक्ति हनुमान मंत्र
  • गुप्त हनुमान मंत्र
  • शनिवार हनुमान मंत्र
  • हनुमान बिज मंत्र 108 बार
  • हनुमान जी के मंत्र श्लोक

Hanuman Mantra Typses: कुछ पावरफुल हनुमान मंत्र

हनुमान मंत्रों मे सर्व शक्तिशाली मंत्र होता है साबर मंत्र जिसे किसी प्रकार की सिद्धि के लिए उपयोग किया जाता है, परंतु ध्यान रखे यदि आप का मन धैर्यवान नहीं है और आप प्रभु का दिव्य रूप सह नहीं पाए तो ये मंत्र आप को मानसिक रूप से दुर्बल भी कर सकता है।

हनुमान जी के कुछ पवारफूल मंत्र:

१. सबसे पवारफूल मंत्र – हनुमान मंत्र

ॐ नमो भगवते आंजनेयाय महाबलाय स्वाहा।

२. पंचमुखी हनुमान मंत्र:

ॐ दक्षिणमुखाय पच्चमुख हनुमते करालबदनाय।
नारसिंहाय ॐ हां हीं हूं हौं हः सकलभीतप्रेतदमनाय स्वाहाः,

३. हनुमान चालीसा मंत्र:
ॐ श्री हनुमते नमः।

४. हनुमान गायत्री मंत्र:
ॐ अंजनेयाय विद्महे वायुपुत्राय धीमहि।
तन्नो हनुमान प्रचोदयात्।

५. हनुमान बीज मंत्र:
ॐ हम् हनुमते नमः।
श्री राम दूताय नम: ||

अर्थ: मैं हनुमान जी को यानि प्रभु श्री राम जी के सबसे बड़े सेवक को नमन करती हु।

हनुमान बिज मंत्र फायदे:

हनुमान जी के इस बिज मंत्र को आप एक पावरफुल मंत्र मान सकते हो जिसका एकाग्र मन से सक्षम हो कर पाठ किया जाए तो आप अपने समस्या का समाधान कर सकते हो।

  1. इस मंत्र के जाप से आपकी एकाग्रता बढ़ती है।
  2. इस मंत्र के जाप से शारीरिक बल, सहनशक्ति, और क्षमता बढ़ती है।
  3. इस मंत्र के जाप से एक ऊर्जावान जीवन की शुरुवात होती है।

६ .शत्रु नाशक हनुमान मंत्र:

पूर्व कपि मुखाय पंचमुख हनुमते टं टं टं टं सकल शत्रु संहारणाय स्वाहा।।’

७. लाभ प्राप्ति के लिए हनुमान मंत्र

अज्जनागर्भ सम्भूत कपीन्द्र सचिवोत्तम।

रामप्रिय नमस्तुभ्यं हनुमन् रक्ष सर्वदा।।

८. मुकदमे में विजयश्री हेतु हनुमान मंत्र

पवन तनय बल पवन समाना।

बुधि बिबेक बिग्यान निधाना।।

९. धन प्राप्ति के लिए हनुमान मंत्र

मर्कटेश महोत्साह सर्वशोक विनाशन ।

शत्रून संहर मां रक्षा श्रियं दापय मे प्रभो।।

१०. हनुमान जी साबर मंत्र

हनुमान जाग…. किलकारी मार….. तू हुंकारे…. राम काज सँवारे…. ओढ़ सिंदूर सीता मैया का…. तू प्रहरी राम द्वारे…. मैं बुलाऊँ…, तू अब आ…. राम गीत तू गाता आ….. नहीं आये तो हनुमाना….. श्री राम जी ओर सीता मैया की दुहाई…. शब्द साँचा….. पिंड कांचा…. फुरो मन्त्र ईश्वरोवाचा.

हनुमान मंत्र

मंत्रों को पढ़ने की विधि:

हनुमान मंत्र का जाप का समयसूर्योदय/सूर्यास्त १ घंटे के अंदर
जाप करने की संख्या११, २१, या १०१ बार मंगलवार/शनिवार के दिन
हनुमान मंत्र का जाप कौन कर सकता हैं?कोई भी

हनुमान जी बड़े दयालु है अगर सच्चे दिल से पुकारोगे तो आपने विधि मे की गलती को भी माफ कर देंगे। हनुमान जी के मंत्रों की सख्त नियमावली उन्ही के लिए है जो हनुमान जी की सिद्धि कर उन्हे वचन बद्ध कर उनसे वर मांगते है।

अगर आप किसी समस्या मे हो और मंत्र याद ना आए तो बस कह देना जय सिया राम जय हनुमान।

मंत्रों को जाप करते समय यह ध्यान रखे:

हनुमान चालीसा के नुसार अगर आप सिर्फ हनुमान जी की ही पूजा करते हो तो भी आप के सभी दुखों को मारुति हर लेते है।

१. मंत्र पढ़ने से पहले स्नान कर ले या शाम के समय हात मू धो ले।

२. घर के मंदिर मे हनुमान जी की प्रतिमा की सही से स्थापना कर ले और रोज फूल चढ़ा के पूजा करे।

३. हनुमान जी की फोटो किसी भी दिशा मे रख सकते है परंतु ऐसे जगह रखे जहा उसे बिना हिलाए आप पूजा कर सके।

४. जब कभी आप हनुमान चालीसा / या मंत्र पढे तो एक दिया जरूर जलाए। दिया आप के भक्ति का साक्षी होता है।

५. यदि किसी और के लिए आप मंत्र पढ़ रहे है तो तांबे के बर्तन मे पनि ले और दिए के पास रख मंत्र जाप हो जाने पर वह पनि पीने को दे।

ध्यान रहे ये सभ विधि भक्तों के लिए है, अगर कोई टोना टोटका या सिद्धि के लिए जाना चाहता है तो पहले अपने गुरु को तलाशे और उनके मार्गदर्शन से ही कार्य करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Join Whatsapp